Home / ज्योतिष / हनुमान जयंती पर करें ये प्रयोग, पैसों की तंगी होगी दूर
hanuman-jayanti-ll-300x300

हनुमान जयंती पर करें ये प्रयोग, पैसों की तंगी होगी दूर

हनुमान जयंती पर करें ये प्रयोग, पैसों की तंगी होगी दूर

भगवान वाल्मीकि जी के अनुसार महाकपि केसरी सुमेरू पर्वत पर शासन करते थे। महाकपि केसरी और अंजनी के पुत्र हनुमान ‘केसरी नंदन’ कहलाए। प्रभु श्री राम के परम भक्त श्री हनुमान जी के आते ही सभी प्रकार के भूत-प्रेत भाग जाते हैं। अष्ट सिद्धियां और नव निधियां जिनके समक्ष नृत्य करती हैं ऐसे वीर हनुमान कलियुग में सभी के सहायक बनते हैं। कलियुग में सभी कामनाओं की पूर्ति के लिए नियम से 40 दिन तक श्री हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए। इससे बल एवं बुद्धि जागृत होती है और व्यक्ति खुद अपनी शक्ति, भक्ति और कर्तव्यों का आंकलन कर सकता है।

 

हनुमान जयंती कल: इस विधि से करें पूजन, संकटमोचन लगाएंगे बेड़ापार
हनुमान जी की पूजा करने से समस्त परेशानियों का सर्वनाश होता हैं। बजरंगबली को लेकर बहुत से टोटके हैं। कहा जाता है कि इन टोटको से ‍विशेष रूप से धन प्राप्ति के साधन बनते हैं। इतना ही नहीं इन टोटको से हर प्रकार का अनिष्ट भी दूर होता हैं। मंगलवार और हनुमना जयंती के दिन संकटमोचन की पूजा मनोकामनाएं पूर्ण करने वाली मानी गई है। यदि आप पैसों की समस्याओं से मुक्ति पाना चाहते हैं तो यहां कुछ चमत्कारी उपाय बताए जा रहे हैं।

हनुमान जी के इस मंदिर में होता है हर टूटे अंग का इलाज, डॉक्टर भी हैं हैरान!

शाम के समय मिट्टी के दीपक में रूई की बत्ती और सरसों का तेल डालें। हनुमानजी के मंत्रों का जप करते हुए दीपक जला दें।

 श्री हनुमंते नम:

अतुलित बलधामं, हेमशैलाभदेहं।

दनुजवनकृशानुं, ज्ञानिनामग्रगण्यम्।

सकलगुण निधानं, वानराणामधीशं।

रघुपतिप्रिय भक्तं, वातजातं नमामि।।
सुंदरकांड का पाठ करने से हनुमान जी बहुत जल्द शुभ फल प्रदान करते हैं।
श्री राम के मंत्रों का जप करने वाले भक्त पर हनुमान जी अति प्रसन्न होते हैं और सदैव कृपा बनाए रखते हैं।
कच्ची धानी के तेल का दीपक जलाकर हनुमान जी की आरती करें। ऐसा करने से संकट दूर होगा और धन की प्राप्ति होगी।
एक नारियल पर कामिया सिन्दूर, मौली, अक्षत रखकर हनुमान जी के मंदिर में रखें इससे धन लाभ होगा।

Comments

comments

About admin

Check Also

meaning

जन्म वार से जाने स्त्री या पुरुष का व्यक्तित्व और हाल

जन्म वार से जाने स्त्री या पुरुष का व्यक्तित्व और हाल Birth Day (जन्म वार …